विवाह हर किसी के जीवन में महत्त्वपूर्ण अवसर है । हालांकि जीवनसाथी चुनने की प्रक्रिया कई लोगों के लिए सिरदर्द बन जाती है । कई लोगों को देरी से शादी होने के मुद्दों का सामना करना पड़ता है । देरी से शादी होने के मामलों में व्यक्ति तथा परिवार को सामाजिक दबाव और उदासी का सामना करना पडता है जिससे घर में संघर्ष पैदा हो सकते हैं । जो लोग देरी से शादी होने के मामलों का सामना करते हैं उनके लिए विवाह के लिए वास्तु टिप्स बड़ी मददगार साबित होती है । विवाह के लिए वास्तु उन लोगों के लिए भी है जो पहले ही प्रयास में अपना जीवनसाथी खोजने में सफल होते हैं । ज्यादातर लोग अपनी कुंडली में दोषों पर ही अपना ध्यान केंद्रित करते हैं और वास्तु दोष के बारे में भूल जाते हैं । अच्छा गठबंधन खोजने के लिए घर के वास्तु दोष को नष्ट कर देना चाहिये । वास्तु एक विज्ञान है जो व्यक्ति के आंतरिक ऊर्जा को ऊपर उठाता है जिससे आकर्षक व्यक्तिमत्व का विकास होता है जो उचित व्यक्ति को आकर्षित करता है ।

नीचे कुछ विवाह के लिए वास्तु टिप्स का उल्लेख किया है –

** घर में दीया और अगरबत्ती को जलाकर आप एक अच्छा गठबंधन कैसे ढूँढ सकते हैं ? दीया और अगरबत्ती से वातावरण की सकारात्मक ऊर्जा में वृध्दि होती है ।

** इसे हर रोज करने से आंतरिक ऊर्जा प्रोत्साहित हो जाएगी और व्यक्ति को आंतरिक शांति का एहसास होगा । यह व्यक्तित्व की विशेषता है जो आकर्षक स्वरूप की है और व्यक्तियों को अपनी तरफ मोह लेती है ।

** क्या आप जानते हैं कि विशेष दिशा में भावी दुल्हा या दुल्हन का सामना करना उपयुक्त होता है ? वास्तु अनुसार, दुल्हा या दुल्हन ने अपने 3री अनुकूल दिशा का सामना करके भावी दुल्हा या दुल्हन के सामने बैठने से सकारात्मक परिणाम प्राप्त होते हैं । अनुकूल दिशा की वजह से व्यक्ति के आत्मविश्वास के स्तर में वृध्दि होती है ।

** अपने अनुरूप जीवनसाथी को निश्चित करते समय 3री अच्छी दिशा में बैठने से देरी से होनेवाले आपके विवाह के मसलों का समाधान मिल जाता है ।