उज्जैन : महाशिवरात्रि पर्व पर 4 मार्च सोमवार को भगवान महाकालेश्वर मन्दिर में हजारों लोगों ने कतार में लगकर भगवान महाकाल के दर्शन किये। महाकाल मन्दिर के आसपास के क्षेत्र के साथ-साथ सम्पूर्ण शहर हाशिवरात्रि पर शिवमय हो गया। स्थान-स्थान पर लोगों ने पांडाल लगाकर प्रसादी वितरण एवं शिवभक्ति के गीत बजाकर क्षेत्र को भक्तिरस से सराबोर कर दिया। 3 मार्च की रात्रि से ही लोग लाईन में लगकर भगवान शिव के दर्शन करने के लिये लालायित नजर आये। महाशिवरात्रि पर्व पर 3 मार्च की रात्रि 2 बजे से गर्भगृह के पट खुल गये और भस्म आरती के पश्चात आम दर्शनार्थियों के लिये दर्शन व्यवस्था प्रारम्भ कर दी गई।

शासकीय पूजन

महाशिवरात्रि पर प्रतिवर्ष होने वाला शासकीय पूजन दोपहर 12 बजे गर्भगृह में संभागायुक्त अजीत कुमार, आईजी राकेश गुप्ता, कलेक्टर शशांक मिश्र, पुलिस अधीक्षक सचिन अतुलकर ने किया। पूजन विधि-विधान से शासकीय पुजारी घनश्याम शर्मा द्वारा कराया गया।

आज दोपहर में होगी भस्म आरती

भगवान महाकाल महाशिवरात्रि के दूसरे दिन सवा मन का पुष्प मुकुट धारण कर भक्तों को दिव्यरूप में दर्शन देंगे। महाशिवरात्रि के दूसरे दिन 5 मार्च को दोपहर में भस्म आरती होगी। भस्म आरती के बाद ब्राह्मणों को पारणा भोजन कराया जायेगा और इसी के साथ महाशिवरात्रि पर्व का समापन होगा।