युग प्रदेश,संतनगर : मिठी गोबिन्दराम पब्लिक स्कूल में विद्यार्थियों हेतु अभिप्रेरक सत्र का आयोजन किया गया। संस्थान के प्रेरणापुंज श्रद्धेय सिद्ध भाऊ जी ने सभागार में उपस्थित कक्षा आठवीं एवं नवीं के छात्रों को संबोधित करते हुए प्रतिभा प्रत्येक विद्यार्थी के भीतर विराजमान है तथा परिश्रम की इस प्रतिभा को निखारने का कार्य करता है अत: छात्र को अपने अध्ययन काल में कठिन सतत् परिश्रम कर ही अपनी प्रतिभा को विकसित करने का प्रयास करते रहना चाहिए। साथ ही साथ छात्रों को अपने भीतर एकाग्रता, दृढ़संकल्प, अनुशासन एवं त्याग की भावना को प्रबल बनाये रखना चाहिए।

mgps

जिससे वे अध्ययन के प्रति सक्रिय हो सके एवं वर्तमान युग प्रलोभनों से स्वयं को मुक्त कर सके। इसी क्रम में उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि जीवन यात्रा प्रत्येक मानव को अकेले ही तय करनी होती है अत: इस यात्रा के पथिक बनने के लिए आवश्यकता है स्वस्थ शरीर एवं स्वस्थ मन का होना। जो तब ही संभव है जब हम स्वस्थ पौष्टिक आहार का सेवन करें एवं शुद्ध सकारात्मक विचारों को धारण करें। इसी तारतम्य में संस्था सचिव ए.सी. साधवानी, शिक्षिका श्रीमती रंजीता फूलवानी, श्रीमती सीमा शर्मा ने भी दीपावली पर्व कैसे मनायें पर विचार प्रकट किए।