स्वच्छता सर्वेक्षण में मध्यप्रदेश को सम्मान दिलाने के लिये जनता का हृदय से धन्यवाद : शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में पूरे देश में पुन: इंदौर को सबसे स्वच्छ शहर चुने जाने और प्रदेश की राजधानी भोपाल को दूसरा स्थान प्राप्त होने पर बधाई दी है। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से पूरे प्रदेश में स्वच्छता अभियान चला रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह गौरव हासिल करने के लिये मैं दोनों शहरों के नागरिकों, कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियो,महापौर और प्रशासनिक अधिकारियों को बधाई देता हूँ। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि इंदौर अदभुत शहर है। जहाँ साथ काम करने की, सही दिशा में काम करने की और समाज के साथ काम करने की अदभुत क्षमता है। उन्होंने कहा कि भोपाल शहर भी पीछे नहीं रहा है। यह शहर पूरे देश में नम्बर दो स्थान पर बरकरार है। यह भी अपने आप में गौरव का विषय है। यहाँ के भी नागरिकों, कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियो, सामाजिक संगठन, महापौर और प्रशासनिक अधिकारियों को धन्यवाद देता हूं।

इंदौर: इंदौर ने एक बार फिर बाजी मारते हुए स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में पहला स्थान हासिल किया है। दूसरे स्थान पर मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल रहा है। पिछले साल की रैंकिंग में भी इन्हीं दोनों शहरों ने पहला और दूसरा स्थान हासिल किया था। इस सूची में चंडीगढ़ को तीसरा स्थान मिला है।केंद्रीय शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर ये जानकारी दी। मंत्री ने अपने ट्वीट में इंदौर और भोपाल के लोगों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी। पुरी ने ये भी लिखा कि दोनों ही शहरों की जनता ने इस अभियान को जनआंदोलन में बदला और ये सफलता पाई।इधर इस उपलब्धि पर इंदौर की महापौर मालिनी गौड़ ने लगातार दूसरे साल सर्वेक्षण में नंबर एक आने के लिए इंदौर की जनता की जमकर तारीफ की।