अध्ययन में 35 देशों के लोगों से बातचीत करके तय किया गया है

लंदन,एजेंसी : वैश्विक स्तर पर किए गए एक अध्ययन में सामने आया है कि कैरियर के विकल्प के रूप में भारतीयों की पहली पसंद टीचिंग है। ब्रिटेन की एक संस्था ने यह अध्ययन कराया है। अध्ययन यह जानने के लिए किया गया है कि समाज में टीचिंग कैरियर को लोग किस प्रकार से देखते हैं? इसे 35 देश के लोगों से बातचीत करके तय किया गया है। भारत में कैरियर के तौर पर टीचिंग के क्रेज को लेकर यह बात सामने आई है। इस अध्ययन से पता लगा है कि हमारे देश के आधे से भी ज्यादा लोग अब भी टीचिंग को अपने और अपने बच्चों के लिए सबसे बेहतर कैरियर मानते हैं। करीब 54 फीसदी भारतीयों ने तमाम प्रफेशनों के बावजूद आज भी टीचिंग को ही सबसे अच्छा कैरियर माना है। यह आंकड़ा सभी 35 देशों में सबसे अधिक है। टीचिंग को पसंद करने के मामले में भारतीयों के बाद चीन के लोगों का नंबर आता है। 50 फीसदी चीनियों को भी टीचर बनना पसंद है। वहीं इस मामले में ब्रिटेन भारतीयों से काफी पीछे हैं। यहां केवल 23 फीसदी लोग ही टीचिंग के प्रोफेशन को पसंद करते हैं। जबकि रूस के लोगों में मात्र 6 फीसदी आबादी ऐसी है जो टीचिंग को कैरियर के रूप में चुनना चाहती है।