मुख्यमंत्री ने कहा भाजपा सरकार के विकास पर आता है कांग्रेस को गुस्सा

इंदिराजी कहती थीं कि गरीबी हटाओ, लेकिन ये गरीबी नहीं हटा पाए, भाजपा ने यह करके दिखाया

शिवपुरी : भाजपा सरकार ने प्रदेश का विकास किया है, तो इस पर कांग्रेस को गुस्सा आता है। कांग्रेसी खुद तो  कुछ कर नहीं पाए, उन्होंने हमेशा से प्रदेश के गरीबों का शोषण किया है। इंदिराजी कहती थीं कि गरीबी हटाएंगे, लेकिन कांग्रेस के लोग आज तक देश-प्रदेश से गरीबी नहीं हटा पाए। गरीबी हटाने का काम मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार ने किया है। ये बातें मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने रविवार को शिवपुरी जिले की पोहरी विधानसभा के बैराड़ और करैरा में जनसभाओं को संबोधित करते हुए कही।

सत्ता के लिए तड़प रही कांग्रेस

मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने बैराड़ में भाजपा प्रत्याशी श्री प्रहलाद भारती के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि गुस्सा प्रदेश की जनता को नहीं आता है, गुस्सा कांग्रेस को आता है, क्योंकि वे पिछले 15 वर्षों से सत्ता से दूर हैं, कुर्सी से दूर हैं। अब उन्हें सत्ता में आने की तड़पड़ाहट है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी, तो प्रदेश फुकलेट था। इन्होंने प्रदेश को बर्बाद कर दिया था। गड्डों में सड़कें थीं, सिंचाई की व्यवस्था नहीं थी। पूरा प्रदेश अंधेरे में था, ये लोगों को बिजली नहीं दे पाए। उन्होंने कहा कि हम मध्यप्रदेश में गरीबों के लिए संबल योजना लेकर आए, तो इस पर कांग्रेस को गुस्सा आता है, सिंचाई की उचित व्यवस्थाएं की, तो इस पर कांग्रेस को गुस्सा आता है। बुजुर्गों को तीर्थदर्शन यात्रा कराई तो इस पर कांग्रेस को गुस्सा आता है।

कांग्रेस ने प्रदेश को बर्बाद किया

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के शासनकाल में मध्यप्रदेश में सिर्फ साढ़े सात लाख हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई होती थी। उसमें भी बैराड़ क्षेत्र में तो एक इंच जमीन पर इन्होंने सिंचाई की व्यवस्था नहीं की। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार ने 41 लाख हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई की व्यवस्था की है। इसके लिए कई बड़ी, मध्यमवर्गीय एवं छोटी सिंचाई परियोजनाएं शुरू की हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने शिक्षा की व्यवस्था को भी पूरी तरह चौपट कर दिया था। शिक्षकों को 500 रूपए एवं 1200 रूपए देते थे। भाजपा सरकार ने शिक्षकों का वेतन 40 हजार और 60 हजार रूपए तक किया। बच्चों को नि:शुल्क पुस्तकों का वितरण किया। नि:शुल्क स्कूल यूनिफार्म दिलाईं। बेटियों को साइकिलें दीं, ताकि वे दूरदराज के गांवों से स्कूल आ सकें। उन्होंने कहा कि अब बोर्ड परीक्षाओं में 70 प्रतिशत अंक लाने वाले भांजे भांजियों को लैपटॉप भी देने की योजना शुरू की है।

सबके लिए मांगी समृद्धि

कार्यक्रम की शुरूआत में मुख्यमंत्री ने उपस्थित जनसमूह को दीपावली की बधाइयां एवं शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि मैंने दीपावली पर पूजा की और प्रदेश की एवं जनता की समृद्धि के लिए कामना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने अपने लिए कुछ नहीं मांगा, सिर्फ प्रदेश की जनता की खुशहाली और उनकी समृद्धि के लिए प्रार्थना की है। इस अवसर पर बैराड़ में श्री सुशील रघुवंशी, श्री हरिनारायण कुशवाह, श्री रामबाबू मंगल, श्री पृथ्वीराज सिंह जादौन, श्री तुलाराम यादव सहित पार्टी पदाधिकारी मौजूद थे।