दूध पिलाने वाली माँ को यह चीजें नहीं खानी चाहिए, स्तनपान कराने वाली महिला न खाए यह आहार, ब्रेस्टफीडिंग करवाने वाली महिला को इन चीजों से परहेज करना चाहिए

शिशु के जन्म के बाद कम से कम छह महीने तक केवल माँ का दूध ही उसके लिए सर्वोत्तम आहार होता है। क्योंकि उसमे वो सभी पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो एक शिशु के शारीरिक और मानसिक विकास के लिए जरूरी होते हैं। ऐसे में दूध पिलाने वाली माँ को अपने आहार का खास ध्यान रखना पड़ता है ताकि शिशु पर किसी भी तरह का उल्टा असर न पड़े। जैसे ही स्तनपान कराने वाली महिला को अपने आहार में भरपूर मात्रा में पोषक तत्वों को शामिल करना चाहिए जो शिशु के बेहतर विकास में मदद कर सकें। साथ ही कुछ ऐसे आहार भी हैं जिनका इस समय महिला को सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके कारण शिशु को परेशानी हो सकती है। तो आइये अब जानते हैं की शिशु के बेहतर विकास के लिए स्तनपान कराने वाली महिला को क्या क्या नहीं खाना चाहिए।

ज्यादा मिर्ची, ज्यादा तेल, ज्यादा मसालें, वाले भोजन का सेवन स्तनपान कराने वाली महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि इसे पचाना शिशु के लिए मुश्किल हो सकता है जिसके कारण उसे पेट से सम्बंधित समस्या हो सकती, ऐसे में सादा भोजन ही खाना चाहिए।

जंक फ़ूड :-

बाहर का खाना खाने का मन हर किसी का करता है लेकिन शिशु के लिए जो बेहतर है उसका ध्यान रखते हुए जंक फ़ूड बहुत नुकसानदायक होता है। क्योंकि इसमें न तो किसी तरह के पोषक तत्व होते है, और इसे पचाने में भी शिशु को परेशानी का अनुभव करना पड़ सकता है।

नशीली चीजे :-

किसी भी तरह का नशा जैसे की अल्कोहल आदि का सेवन भी महिला को नहीं करना चाहिए। क्योंकि यह शिशु के शारीरिक के साथ मानसिक विकास पर बहुत बुरा प्रभाव डालता है। और इसके कारण शिशु का विकास बेहतर तरीके से नहीं हो पाता है।

ज्यादा खट्टी चीजें :-

खट्टे फल या अन्य कोई भी खट्टी चीज का सेवन शिशु के पेट से सम्बंधित समस्या का कारण बन सकता है। इसके कारण शिशु को खट्टे डकार, पेट में दर्द, दस्त जैसी परेशानी हो सकती है। इसीलिए खट्टे फल के साथ अचार, कच्चा आम, इमली आदि का सेवन न करें।

चॉकलेट :-

जी हाँ चॉकलेट का सेवन भी दूध पिलाने वाली माँ के लिए वर्जित होता है खासकर जो महिलाएं डार्क चॉकलेट का अधिक सेवन करती है, उसमे कैफीन और शुगर की मात्रा बहुत अधिक होती है। जो की शिशु को नुकसान पहुंचाती है। ऐसे में स्तनपान कराने वाली महिला को चॉकलेट से परहेज करना चाहिए।

मक्का यानी कॉर्न :-

छोटे बच्चे के लिए यह पता कर पाना मुश्किल होता है की बच्चे को मक्के से एलर्जी तो नहीं है। ऐसे में यदि स्तनपान कराने वाली महिला मक्के का सेवन करती है तो इसके कारण शिशु को पेट में कब्ज़ या एलर्जी जैसी समस्या हो सकती है। इसीलिए मक्के के सेवन से भी ब्रेस्टफीडिंग के दौरान परहेज करना चाहिए।

कॉफ़ी :-

कॉफ़ी का सेवन करने से महिला को नींद न आने जैसी समस्या हो सकती है, क्योंकि इसमें कैफीन की मात्रा अधिक होती है। साथ ही इसके कारण शिशु को अपज जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है, साथ ही चाय का अधिक सेवन भी नहीं करना चाहिए।

मूंगफली :-

मूंगफली का सेवन करने से कोई दिक्कत नहीं होती है लेकिन यदि आपके परिवार में किसी को मूंगफली से एलर्जी होने की समस्या होती है। तो इसके कारण शिशु को भी परेशानी का अनुभव करना पड़ सकता है। क्योंकि इसके कारण हो सकता है शिशु को भी एलर्जी या चकत्ते पड़ने की समस्या होने लग जाए।

तो यह हैं कुछ आहार जो स्तनपान कराने वाली महिला के लिए वर्जित होते हैं। इसके अलावा महिला को अपने खान पान का अच्छे से ध्यान रखना चाहिए ताकि शिशु के बेहतर विकास में मदद मिल सके, और महिला को भी फिट रहने में फायदा मिले।