छात्राओं व महिलाओं का निकलना हुआ मुश्किल

उपनगर में असामाजिक तत्वों व मनचलों पर पुलिस लगाम नहीं लगा पा रही है जिसके चलते आवासीय कालोनियों में छात्राओं व महिलाओं का निकलना मुश्किल होता जा रहा है।

नगरप्रतिनिधि,संतनगर : विगत दिनों हुई पुलिस की कार्रवाई के दौरान कुछ दिन शांति व्यवस्था बनने के बाद फिर से पहले जैसे हालात ही निर्मित हो गए है आये दिन छेडख़ानी की घटनायें व मारपीट के मामले सामने आ रहे है गतदिवस भी एक छेडख़ानी का मामला प्रेमचंदानी मार्ग पर घटित हुआ था पर रिपोर्ट पुलिस में नहीं की गई थी। क्षेत्र में आये दिन छात्राओं के साथ इस प्रकार की घटनायें मनचलें युवक कर रहे है पर शर्म के मारे छात्राएं यह बात किसी को नहीं बताती है खुले आम स्कू लों व कोचिंग सेंटरो के आस पास मोटर साईकि लों पर मनचले युवक घूमते रहते है फिर भी पुलिस देखने के बाद भी अनदेखा कर देती है। मनचलों के अलावा असामाजिक तत्वों का भी जमघट प्रमुख चौराहों व आवासीय कालोनियों में दिखाई दे रहा है। जो देर रात्रि तक शराब के नशे में हुड़दंग मचाते रहते है। जिससे रहवासियों को परेशानी हो रही है देर रात्रि तक सड़कों पर घूमते असामाजिक तत्वों पर भी पुलिस उनके आगे बेबस नजर आती है प्रमुख चौराहों या आवासीय कालोनियां हर जगह पर असामाजिक तत्वों का जमघट नजर आता है रात्रि गश्त के दौरान भी पुलिस देख के इन्हें अनदेखा कर चली जाती है।