कहा जाता है कि मेवे खाने से सेहत बनती है. खिलाड़ियों से लेकर सेहत बनाने वालों तक, ये लोग भरपूर मात्रा में काजू, बादाम, अखरोट जैसे मेवे खाते हैं. फिज़िकली एक्टिव रहने वाले लोग जैसे खिलाड़ियों को ये बेशक नुकसान ना करें, लेकिन दिनभर अपनी जगह से ना हिलने वाले लोगों के लिए यह बीमारियों की दावत देता है. इससे पहले हम आपको बादाम खाने के नुकसानों के बारे में बता चुके हैं, और अब यहां आपको काजू खाने के नुकसानों के बारे में बता रहे हैं.

काजू खाने के नुकसान:
1. वजन बढ़ाए

जो लोग डाइटिंग पर हैं वो काजू ना खाएं. क्योंकि यह बहुत जल्दी वजन बढ़ाता है. 3 से 4 काजू में लगभग 163 कैलोरिज़ और अनसैचुरेटिड फैट्स होता है. इसी वजह से ये उन लोगों के ज़्यादा बेहतर है जिन्हें वजन बढ़ाना हो. वजन कम करने वाले इसे कम मात्रा में ही खाएं.

2. सोडियम 
वयस्कों को रोजाना 1,500mg सोडियम की जरुरत होती है, इससे ज़्यादा सोडियम की मात्रा हाई ब्लड प्रेशर स्ट्रोक, दिल और किडनी से जुड़ी बीमारियों की वजह बनती है. वहीं, 3 ये 4 काजू में 5mg सोडियम की मात्रा होती है, अगर वो बिना नमक के हैं तो. क्योंकि 3 से 4 नमक वाले काजू में सोडियम की मात्रा 87mg होती है. इसीलिए कोशिश करें बिना नमक और कम काजू खाएं

3.एलर्जी
जी हां, कई लोगों को काजू खाने से सांस लेने में कठिनाई, पित्ती, चकत्ते, खुजली, उल्‍टी या फिर दस्‍त की शिकायत होती है. इसीलिए जब भी आपको ऐसी कोई शिकायत तो काजू का सेवन बंद करें और डॉक्टर को दिखाएं.

4. सिर दर्द
जिन भी लोगों को सिर दर्द या माइग्रेन की शिकायत हो तो काजू को ना खाएं. क्योंकि इसमें मौजूद अमीनो एसिड टाइरामिन और फेनेंलेथाइलमाइन कई लोगों के लिए सिर में दर्द की वजह बन सकती है.

5. दवाइयों पर असर करे
बादाम की ही तरह काजू भी दवाइयों के असर को बेअसर करता है. क्योंकि बादाम की ही तरह इसमें भी मैग्नीशियम भारी मात्रा में होता है. 3 से 4 काजू में 82.5mg मैग्नीशियम होता है. काजू से मैग्नीशियम डायबिटीज, थायरॉइड, मूत्र संबधी और अर्थराइटिस की दवाइयों पर असर डालते हैं

वहीं, काजू के ये फायदे भी हैं
प्रोटीन का बहुत अच्छा सोर्स कहे जाने वाले काजू के कई फायदे भी होते हैं जैसे यह कोलेस्टेरॉल को कंट्रोल करता है, त्वचा से झुर्रियां कम करता है, याद्दाश्त को तेज़ करता है, शरीर में ऊर्जा बनाए रखता है, हड्डियों और पाचन शक्ति को मजबूत बनाता है.