पीने के लिये मांगी बीडी ओर बीडी से कंबल मे लगा ली आग, मामले में टीआई, एस आई सहित एचसीएम निलंबित

भोपाल : राजधानी भोपाल में बलात्कर के मामले में थाने के लॉकअप में बंद आरोपी द्वारा खुद को आग लगाने कि सनसनीखेज घटना सामने आई है। मामला राजधानी के कटारा हिल्स थाने का है, बताया जा रहा है कि आरोपी ने थाने के सिपाही से बीड़ी पीने के लिए मांगी थी। जिसके बाद उसने जलती हुई बीडी से कंबल में आग लगा ली। आग लगते ही थाने में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में पुलिसकर्मियों द्वारा आरोपी को जैसै तैसै आग कि चपेट से बचाकर उसे उपचार के लिये अस्पताल में भर्ती करवाया गया। वही मामले में लापरवाही बरतने के चलते अधिकारियो ने तत्काल ही तीन पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है।

मामले कि मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिये गये है। जानकारी के अनुसार, पुरानी बस्ती कटारा हिल्स में रहने वाले राजकुमार प्यारेलाल (24) पर सोमवार देर रात दसवी कक्षा मे पढने वाली 16 वर्षीय किशोरी ने उसपर दुष्कर्म का आरोप लगाया था। पुलिस के अनुसार पुलिस के अनुसार पीडीता नाबालिग लहारपुर में रहती है। वह निजी स्कूल में दसवीं कक्षा की पढ़ाई कर रही है। छात्रा का आरोप है कि आरोपी राजकुमार उर्फं आरके परमार निवासी पुरानी बस्ती कटारा हिल्स बीते तीन-चार महीने से उसका पीछा कर रहा था। इसी दोरान रविवार रात करीब साढ़े 7 बजे वह कोचिंग से वापस घर लौट रही थी, तभी रास्ते में स्थित एक पार्क के पास में आरोपी ने उसे रोक लिया।

आरोपी ने लड़की को चाकू दिखाकर जान से मारने की धमकी देकर पार्क में चलने को कहा। इसके बाद में आरोपी छात्रा को पार्क मे ले गया जहॉ पानी कि टंकी के पास उसने चाकू कि नोंक पर छात्रा को धमकाते हुए अपनी हवस का शिकार बना डाला। बाद में आरोपी ने उसे घटना की जानकारी किसी को देने पर अंजाम भुगतने की धमकी देकर छोड़ दिया। पीडीता ने डर के कारण घटना कि जानकारी एक दिन किसी को नही दी। इसके बाद अगले दिन उसके दिनभर घर मे गुमसूम रहने ओर अकेले मे रोते देख परिजनो ने उससे पुछताछ की जिसपर पीडि़ता ने पूरी घटना अपनी मॉ को बताई। इसके बाद परिजन उसे थाने लेकर पहुंचे गये।

छात्रा कि शिकायत पर पुलिस ने आरोपी राजकुमार के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और दुष्कर्म की धाराओं में मामला दर्ज कर रात में ही उसे गिरफ्तार कर लिया था। बताया गया है कि पुलिस ने आरोपी को रातभर कटारा हिल्स थाने के लॉकअप में रखा था। यहां सुबह के समय उसने सिपाही से बीड़ी पीने के लिए मांगी। इसके बाद आरोपी ने जलती हुई बीडी से लॉकअप मे रखे कंबल में आग लगाकर खुद को जला लिया। लॉकअप से धुआं उठते देख पुलिसकर्मियों में हड़कंप मच गया।

पुलिसकर्मियों ने मिलकर तत्काल आग को बुझाया और आरोपी को लेकर हमिदिया अस्पताल पहुंची। इस घटना में आरोपी के हाथ, सीना और पेट बुरी तरह जख्मी हो गए। फिलहाल आरोपी कि हालत गंभीर होने पर उसे इलाज के लिये निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अधिकारियो के अनुसार आरोपी पचास फीसदी से ज्यादा झूलस गया है, ओर उसकी हालत गंभीर देखते हुए आरोपी को हमीदिया से निजी अस्पताल मे शिफ्ट कर दिया गया है। जहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है।